Best 15 Winter Flowers Plant in hindi | सर्दियों में गार्डन में लगने वाले फूल

Winter Flowers Plant
Spread the love

Winter Flowers Plant: विंटर सीजन में रंग बिरंगे फूलों से अपने बगीचे को सजाने में ज्यादा मेहनत की जरूरत नहीं पड़ती है। बस थोड़े से देखभाल और लगन से ठंड का मजा लेते हुए विंटर में रंगीन और सुगंधित फूलों का आनंद लिया जा सकता हैं। विंटर सीजन के फूल आपके गार्डन तथा घर की शोभा बढ़ाने के साथ-साथ एक मनमोहक वातावरण भी प्रदान करते हैं।

विंटर सीजन में उगने वाले पौधे और खिलने वाले फूलों के लिए की गार्डनिंग प्रक्रिया बहुत सरल होती है, साथ ही इन फूलों के लिए बहुत अधिक पानी की भी आवश्यकता नहीं होती है। इस मौसम के फूल उगाने के लिए शुरुआती ठंड का महीना अक्टूबर-नवंबर बेस्ट होता है।

यदि आप रंगीन फूलों का शौक रखते हैं और विंटर सीजन में अपने घर के बगीचे को कलरफुल रखना चाहते हैं, तो हमारा ये लेख आपके लिए बहुत फायदेमंद होने वाला है, क्योंकि आज के इस लेख में हम आपको Top 15 Winter flowers plant in India के बारे में बताने आए हैं।

आइए जानते हैं फूलों के बारे में विस्तार से :

Top 15 winter flowers plant

1. गुलाब / Rose: Winter Flowers Plant

वैसे तो गुलाब के फूल हर मौसम में देखने को मिल जाते हैं, लेकिन गुलाब के फूल को खिलाने के लिए बहुत मशक्कत करनी पड़ती है। सभी फूलों में सबसे ज्यादा पसंद किए जाने वाले फूल गुलाब की एक वैरायटी का नाम क्रिसमस गुलाब भी है, जिसे विंटर सीजन के 25 दिसंबर क्रिसमस डे के लिए लगाया जाता है। हालांकि गुलाब के सभी वैरायटी और कलर के फूल ज्यादातर विंटर सीजन में देखने को मिलते हैं।

सितंबर से अक्टूबर माह के शुरूआत में ही गुलाब के कलम को लगाने से नवंबर दिसंबर तक अच्छे गुलाब के फूल आने लगते हैं। ये किसी भी प्रकार के मिट्टी में और दिन भर में कम से कम 2 घंटे की धूप में थोड़े खाद के साथ ही लग जाते है। लाल, पीला,सफेद, गुलाबी, बैंगनी और मिक्स कलर आदि में खिलते हैं।

2. गेंदा / Marigold: Winter Flowers Plant

गेंदा के फूल विंटर सीजन में लगभग हर घर में देखने को मिल जाते हैं। लाल पीले नारंगी रंग के गेंदे के फूल गार्डन को बहुत आकर्षक बनाते हैं। भारत में गेंदा फूल की कई प्रजातियां पाई जाती हैं। गेंदे के पौधे को लगाने का बेस्ट समय नवंबर से फरवरी ही माना गया है, क्योंकि इस समय तापमान मीडियम होता है, जो कि गेंदे के फूल के लिए सही है। हालांकि वर्ष भर भी गेंदे के पौधे को थोड़ा ज्यादा देखभाल के साथ लगाया जा सकता है।

गेंदा फूल को लगाते समय इसकी जड़े फैलती हैं, इसलिए इसे गहराई वाले इस जगह पर लगाएं। गेंदे के फूल के लिए विंटर सीजन में कुछ खास पानी की आवश्यकता नहीं होती है, हालांकि गर्मी के मौसम में लगे गेंदा फूल के लिए थोड़े मात्रा में पानी की जरूरत पड़ती है।

यदि आप अधिक गेंदे के फूल चाहते हैं, तो ज़ब गेंदे के फूल सूखते हैं या मुरझा जाते हैं तब उन्हें काट के अलग कर दे। ऐसा करने से कटे हुए जगह पर नई कलियां बनती है, जिससे पौधे में अधिक फूल आने लग जाते हैं। गेंदे के फूल की एक खासियत है कि इसके सुगंध के कारण कोई भी हानिकारक कीट इसके पास नहीं आते हैं।

3. कैलेंडुला / Calendula: Winter Flowers Plant

गुलाब के बाद विंटर सीजन का बेस्ट फूल कैलेंडुला को माना गया है। पीले और नारंगी रंग के ये फूल नवंबर से मार्च तक पुरे गार्डेन को ब्राइट कलर से भरपूर रखते हैं। इसके साथ एक अच्छी बात ये है कि ये आसानी से लग जाते हैं । एक फूल लगभग 12 से 15 दिन तक खिले रहते हैं। कई जगह से पॉट मेरीगोल्ड के नाम से जाना जाता है, क्योंकि देखने में यह पूरी तरीके से मेरीगोल्ड की तरह ही है।

विंटर सीजन इसके लिए बेस्ट है क्योंकि यह ठंडी जलवायु वाले स्थिति में ही यह अच्छे से फूलते हैं और इन्हें ग्रो करने के लिए सीधी धूप के भी आवश्यकता नहीं होती हैं।  ज्यादा धूप होने से ये पौधे मर भी सकते हैं। कैलेंडुला के पौधे को ज्यादा गीला रहना पसंद नहीं आता है, इसलिए इसे सूखी मिट्टी की आवश्यकता होती है। इसे थोड़ी मात्रा में ही पानी की जरूरत होती है।

4. सेवन्ति / Chrysanthemum: Winter Flowers Plant

सेवंती के फूल को आम बोलचाल की भाषा में गुलदाउदी के नाम से जाना जाता है। विंटर सीजन का ये सबसे बेहतरीन खुशबूदार फूल होता है। इसके पौधे को लगाने का सही समय सितंबर-अक्टूबर को माना गया है, क्योंकि जब बरसात खत्म होती है, तब इस पौधे को लगाने से नवंबर दिसंबर तक अच्छे फूल आ जाते हैं। सेवंती का फूल एक ऐसा फूल है, जिसके सुगंध के बाद आपको किसी दूसरे फूल की जरूरत महसूस नहीं होगी।

इसके कई किस्में होते हैं और कई कलर में ये खिलते हैं। इसे भारत के अलग-अलग क्षेत्रों में कई अलग-अलग नाम से भी जाना जाता है। गुलदाउदी के अच्छे फूल के लिए मध्यम तापमान बहुत जरूरी होता है। इस फूल के पौधे को बालू में भी लगाया जा सकता है। इसमें ज्यादा मात्रा में पानी की भी आवश्यकता नहीं होती है। सीजन खत्म होने के बाद इस फूल के पौधे अपने आप सूख जाते हैं। यदि इसके जड़ को छोड़कर सूखे पौधे को ट्रिम कर देंगे, तो अगले वर्ष भी सेवंती के फूल आपके  बगीचे में होंगे।

5. डहेलिया / Dahlia: Winter Flowers Plant

डहेलिया का फूल आमतौर पर सुबह की धूप और हल्की हवा वाले क्षेत्रों में आसानी से ग्रो करता है। ये विंटर सीजन में अच्छे से खिलते हैं, लेकिन ज्यादा शीतलहर  इनके लिए खतरनाक हो सकता है। डहेलिया का फूल काफी बड़ा, घना और कई रंगों के कारण देखने में सुंदर व आकर्षक होता है। इसकी खूबसूरती के पीछे तितलियां भी आकर्षित रहती है। ये लाल, पीला, सफेद, नारंगी, बैगनी और कई रंगों में गार्डन की शोभा बढ़ाता है। कई जगह डहेलिया को डैलिया भी कहा जाता है।

डेहलिया के पौधों को बलुई मिट्टी पसंद होती है या ये खुले जगह पर मध्यम तापमान में खिलना पसंद करते हैं। डहेलिया की खूबसूरती के कारण इस पर कीट भी ज्यादा लगते हैं। डहेलिया के पौधे को लगाने में 10 से 15 दिन लग जाते हैं, इसलिए इसे शुरुआती विंटर सीजन में लगाया जाता है।

6. पेटूनिया / Petunia: Winter Flowers Plant

पेटुनिया  विंटर सीजन के पौधे होते हैं, जो विभिन्न रंगों, आकारों के साथ खिलते हैं। इनमें एक ही पौधे में कई रंग बिरंगे फूल होने के कारण इनका अधिकांश उपयोग घरों की सजावट में किया जाता है। विंटर सीजन से शुरू होकर ये फूल समर सीजन तक अपनी खूबसूरती के साथ खिलते हैं। पेटूनिया लगभग 20 से ज्यादा प्रजाति और कलर के साथ पाये जाते हैं । ये ज्यादा तापमान को सहन कर सकता है, लेकिन बहुत कम तापमान 0 से नीचे डिग्री के तापमान को सहन नहीं कर पाते हैं।

winter flower plants
Petunias is one of the Best 15 winter flowers plant

सितंबर के बाद का मौसम इस फूल को लगाने के लिए बेस्ट होता है। पेटूनिया को कम से कम 4 से 5 घंटे के लिए धूप चाहिए होता है और पानी भी सीमित मात्रा में दिया जाता है।

7. पैन्सी / Pansy:

winter flower plants
Pansy is the best winter flower plants

पैन्सी सुंदर फूल के पौधे होते हैं, जो अधिक विंटर में अच्छी तरह ग्रो करते हैं। कई अलग-अलग कलर में इनके फूल तितली के आकार के होते हैं। इसके पौधे आकार में बहुत छोटे होते हैं, इसके कारण इन्हें छोटे गमलों में आसानी से उगाया जा सकता है। पैन्सी के फूल छाया में भी अच्छी तरह से खिल सकते हैं। इसका हिंदी नाम बनफूल होता है, इसके अलावा इसे कहीं कहीं पे पांसे का फूल भी कहा जाता है। पैन्सी के फूल अधिक गर्मी में नहीं उगाया जा सकता है।

इसकी सुगंध भी बहुत प्यारी होती है। इन फूलों में हलकी रूईदार पंखुड़ी होती है। जिनका रंग आमतौर पर पीला, सफ़ेद, बैंगनी, और नीला में होता है। इसके लिए बहुत अधिक पानी की आवश्यकता नहीं होती है। पैन्सी के पौधे पर फूल लगातार दो साल तक आ सकते है। इसके बाद इसके पौधे सूखने लगते है।

8. एलिस्सुम या एलिसम / Alyssum: Winter Flowers Plant

गार्डन का चादर कहे या कालीन एलिसम के सुंदर फूल को देखकर ऐसा ही महसूस होता है। शहद के समान सुगंध वाला सफेद और हल्के नीले रंग में खिलने वाला यह फूल विंटर सीजन में गार्डन को काफी आकर्षित बनाते हैं। बहुत कम ऊंचाई वाले इन फूल के  पौधों को बहुत कम मेहनत और बहुत कम पानी की आवश्यकता होती है। कई बार तो सूखे की स्थिति में भी ये फूल खिलते है। इस फूल के पौधे  केवल 7 से 12 दिनों में ही लग जाते हैं और एक से डेढ़ महीने के बीच इनमें  फूल खिलने शुरू हो जाते हैं।

9. अंतिरर्हीनुम / Antirrhinum: Winter Flowers Plant

सामान्य तौर पर अंतिरर्हीनुम फूल को स्नैपड्रैगन  (Snapdragon) और डॉग प्लांट (Dog plant) के नाम से भी जाना जाता है। ये विंटर सीजन का विदेशी पौधा है। लाल, पीला और सफेद कलर में ये काफी आकर्षित लगता है। अक्टूबर-नवंबर के महीने में इसे लगाने से 7 से 10 दिन में ही ये काफ़ी अच्छा ग्रो करते हैं और लगभग 20 से 30 दिनों बाद इतमें अच्छे फूल आना शुरू हो जाते हैं।  इसे मध्यम तापमान की आवश्यकता होती हैं। इसलिए से सीधे धूप में नहीं रखना चाहिए।

10. कार्नेशन / Carnation:

Carnation is winter flowers plant
Carnation is winter flowers plant

विंटर सीजन के रंगीन और सुगंधित फूलों के पौधों में कार्नेशन  फूल के पौधे को भी शामिल किया जा सकता है। हालाँकि इसे एक बार विंटर सीजन में लगाने के बाद आप इनके फूलों को बारहमासी विकसित कर सकते हैं। कार्नेशन के फूल कई  प्राकृतिक रंग जैसे  गुलाबी, सफेद और लाल में खिलते हैं। इस फूल में 5 पंखुड़ियां होती हैं जो सफेद, गुलाबी और बैंगनी रंग में बदलते रहते हैं। कार्नेशन के फूल में लौंग मसाले की तरह ही खुशबू आती है।

अक्टूबर और नवंबर माह में लगाने पर ये मात्र 7 से 10 दिन में ग्रो करने लगते हैं। इनके पौधों को बहुत तेज धूप की आवश्यकता नहीं होती है। विंटर सीजन में इन्हें कुछ खास पानी की आवश्यकता नहीं होती है, लेकिन ज़ब ये बड़े बारहमासी के रूप में विकसित होने लगते हैं, तब इन्हें जरूरत के अनुसार पानी देना पड़ता है।

11. नैस्टर्टियम / Nasturtium: Winter Flowers Plant

यदि आप विंटर सीजन में घर के अन्दर, बाल्कनी में भी फूलों की छटा बिखेरना चाहते हैं, तो नास्टर्टियम या नैस्टर्टियम फूल का पौधा लगाना सबसे बेस्ट होगा।लाल, नारंगी, गुलाबी, पीला, सफेद आदि रंगों के साथ चमकीला कलर और आकर्षित करने वाला सुगंध आपके घर के वातावरण को सुखद बना देता है। नैस्टर्टियम के फूल और पत्ते में चटपटे सरसों जैसा स्वाद होता है जिसे सलादो में गार्निंश में उपयोग किया जाता है। इस पौधे को नियमित रूप से   पानी और धूप की आवश्यकता होती है।

12. स्वीट पी / Sweet Pea

विंटर सीजन में खिलने वाले फूलों में स्वीट पी एक मस्त फूल है।  स्वीट पी फूल का पौधे ठंडी जलवायु में अच्छी तरह से फलते-फूलते हैं। कई रंगों में और ताजगी से भरपूर सुगंधित फूलों के कारण ये काफी गार्डन में दिखाई दिया देता है। भारत के हिल स्टेशनों में स्वीट पी  के अलग-अलग किस्में बहुत  देखने को मिलते हैं।

sweet peas is winter flowers plant
Sweet Peas is winter flowers plant

स्वीट पी के पौधों में फूल जनवरी-फरवरी में अच्छे से खिलते हैं, जब इनके पौधों को अक्टूबर-नवंबर में लगाया जाता है। इन्हें भरपूर मात्रा में पानी की जरूरत होती हैं, पानी की कमी होने से इनके फूल झड़ने लगते हैं। भारत में स्वीट पी ज्यादातर नीले, गुलाबी और लैवंडर कलर में दिखाई देते हैं।

13. फ्लॉक्स / Phlox

सामान्य विंटर सीजन में ही फ्लॉक्स के फूल खिलते  हैं। फ्लॉक्स के फूल के पौधे ना बहुत ज्यादा ठंडी ना बहुत ज्यादा गर्मी सहन कर पाते हैं, इसलिए  इसको ग्रो करने के लिए बहुत देखभाल की आवश्यकता होती है।

इस फूल के पौधे को पटुआ के नाम से भी पुकारा जाता है। ये सुगंधित पांच पंखुड़ी वाले फूलों के समूहों में होते हैं, जो जनवरी-फरवरी में खिलते हैं। इन फूलों को बहुत ज्यादा गर्मी और बहुत ज्यादा ठंडी सहन नहीं होती है। इसलिए इसे मध्यम तापमान की जरूरत होती है, इन्हें बहुत ज्यादा गीली मिट्टी पसंद नहीं होती है, इसलिए थोड़े पानी में ही इनकी पूर्ति हो जाती है।

14. कॉर्नफ़्लावर / Cornflower

कॉर्नफ्लॉवर  फूल के पौधे के रूप से सजावट के  काम आते हैं। विंटर सीजन में अच्छे ग्रो करने वाले, इन फूल के पौधों को पूर्ण रूप से सूर्य किरणों की आवश्यकता होती है। इसे आमतौर पर  से सितंबर से नवंबर में लगाया जाता है। लगभग 7 से 10 दिन में इनके पौधे लग जाते हैं और फूल आने में इन्हें लगभग 10 से 12 सप्ताह लगते है। कॉर्नफ्लोर के फूल देखने में बहुत आकर्षक लगते हैं।

Cornflower is winter flowers plant
Cornflower is winter flowers plant

इसके नीले रंग के सुंदर फूल पर मधुमक्खियों और तितलियों भी आकर्षित होते हैं। इसकी खूबसूरती के आधार पर ही इसे जर्मनी का राष्ट्रीय फूल घोषित किया गया है। इनके पौधे में बहुत जल्दी कीट लगते है, इसलिए इन पौधों को विशेष देखभाल की जरूरत होती है।

15. विंटर जैस्मिन / Winter Jasmine:

विंटर जैस्मिन विंटर सीजन में हर घर में काफी कॉमन फूल है। इस पौधे की खासियत ये होती है कि इसे एक बार लगा देने के बाद देखभाल की जरूरत नहीं होती है। विंटर जैस्मीन पीले कलर के फूल होते हैं, जो काफी सुंदर होते हैं। विंटर जैस्मिन को हिंदी में सर्दियों के चमेली कहा जाता है। विंटर जैस्मिन के पौधे को लगाने का अच्छा समय सितंबर से दिसंबर के बीच होता है।

विंटर जैस्मिन को ज्यादा पानी की जरूरत नहीं होती हैं और इसे 6 से 8 घंटे की विंटर की सीधी धूप की आवश्यकता होती है। विंटर जैस्मिन के फूल विंटर से शुरू होकर समर सीजन तक खिलते हैं, बसंत के मौसम में इनमें सबसे ज्यादा फूल आते हैं।

Read this:

How to Grow and Care for Aglaonema plant | चाइनीज एवर ग्रीन प्लांट को कैसे ग्रो और केयर करे।

– देसी डीकरा

Conclusion: निष्कर्ष

तो दोस्तों, आज के इस आर्टिकल में हमने आपके साथ Top 15 Winter flowers plant in India की जानकारी शेयर की है। उम्मीद करते हैं आपको हमारी ये जानकारी अच्छी लगी होगी। अगर आप फूलों या गार्डनिंग से संबंधित और कोई जानकारी चाहते हैं,तो कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। साथ ही इस आर्टिकल को अपने सोशल मीडिया प्रोफाइल पर शेयर करें।

Best 15 winter flowers plant

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *